Dream Analysis

Dream Analysis

अ, आ  अंक देखना – शुभ एवं विजय का प्रतीक , अंकों से बनी संख्या देखना – भाग्य विधायक प्रतीक , आँगन देखना (अपने घर का ) – अशुभ सूचक , आँगन ( दुसरे के घर का ) – शुभ सूचक, अंगभंग देखना ( स्वयं का ) – शीघ्र ही अनुकूल एवं शुभ समाचार प्राप्ति…

Read More

Eligibility for Donation

आमतौर पर सभी धर्मों में दान देने की प्रथा वर्षों से चली आई है । गृह मनुष्य के जीवन पर शुभ-अशुभ प्रभाव डालते हैं, यह बात विवाद के परे है । ग्रहों को अनुकूल करने के लिए स्नान, पूजा, जाप और दान ये चार मुख्य उपाय हैं । लाल किताब का सम्पूर्ण आधार उपाय और…

Read More

इच्छानुसार संतान कैसे प्राप्त करें ?

।। इच्छानुसार सन्तान ।। ऋतु से चोथे दिन से लेकर सोलहवें दिन तब गर्भधारण का समय है । शंखवली और गोदुग्ध पान कर स्वामी के वाम पाशर्व में शयनं कर स्वामी से पुत्र की कामना प्रकट करनी चाहिए । सूर्यंनाडी और चन्द्रनाडी को एकत्र कर गर्भाधान करने से पुत्र उत्पन्न होता है । सूर्य चन्द्र…

Read More

शकुन-अपशकुन व तिल के फायदे व नुकशान

ज्योतिष अंग शकुन शास्त्र में मानव प्राणी के शारीर पर टिल के निशानों का भी शुभाशुभ वर्णन प्रस्त्तुत किया है, जो निम्न प्रकार है – कुछ शकुन और अपशकुन उदाहरण: शकुन: कबूतर का देखना शुभ माना जाता है, जिसका मतलब होता है कि आने वाले दिनों में शांति और सुख स्थापित हो सकता है। अपशकुन:…

Read More

अंगों के फड़कने को शकुन या अपशकुन कहेंगे

।। अंगों का फडकना और शकुन ।। शकुन विज्ञानं के अन्दर अंगों का फडकना बहुत बड़ा महत्त्व रखता है । यह विषय सुष्टि काल से ही इतना लोकप्रिय रहा है की घर में बड़े-बूढों से लेकर छोटे-छोटे बच्चे भी इस विषय पर वार्ता करते हैं । आमतौर पर आप इस वैज्ञानिक युग में भी यह…

Read More

व्यक्ति के नाखून देखकर जानें उसका स्वभाव

हाथ के नाख़ून हाथ के नाखूनों से जातक के स्वभाव की सौभाग्य का पता चलता है । अँगुलियों का प्रभाव भाग जितना  लम्बा हो, उसकी आधी लम्बाई नाखूनों की होना उत्तम माना गे है । यह आगे की और कुछ बड़े, पीछे की और कुछ छोटे होने चाहिए । अगर यह निर्मल तथा ललाई लिए…

Read More

नवग्रह को ठीक करने के लिए क्या करें ?

।।ग्रहों के आधार पर दिन, खान-पान, रहन-सहन ।। उत्तर भारत में नए वस्त्र या ज्जवाह्रत धारण करने के लिए बुधवार, शनिवार, शुक्रवार के दिन अच्छे माने जाते हैं । बुध-शनि शुक्र के मित्र हैं ।  इसी तरह अन्य कार्यों के लिए दिन नियत हैं । चन्द्र-दिन-सोमवार : यदि जातक का चन्द्र निर्वल हो तो सोमवार के…

Read More