Home » Kundali

Kundali

kundali

Bhagya sambndhi prashnottar

“Bhagya sambandhi prashnottar in hindi” भाग्य सम्बन्धी प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1 – सौभाग्यशाली होने का योग है या नहीं ? उत्तर – (क) आयुरेखा से रविरेखा उत्पन्न होने पर व्यक्ति सौभाग्यशाली होता है. हाथ के पर्वत भी यदि उच्च हो. (ख) मणिबंध से भाग्यरेखा निकल कर माध्यम अंगुले के दुसरे पर्वत तक जाती है तो व्यक्ति सौभाग्यशाली होता हगे. प्रश्न 2 – दैवदुर्विपाक ( दुर्भाग्य ) तो नहीं है… Read More »“Bhagya sambandhi prashnottar in hindi” भाग्य सम्बन्धी प्रश्नोत्तर

Mercury House

Budh Rekha बुध रेखा

चतुर्थ पर्वत बुध पर्वत से सम्बन्ध रखता है और उसकी पहिचान बुध पर्वत और बुध की अंगुली से होती है. ऐसे जातक के गुण एवं उसकी विशेषताएं सदैव स्पस्ट होती हैं और वह एक मुंह वक्ता, बैज्ञानिक, चिकित्सक या वकील बनता है और व्यापर-व्यवसाय में भी उसे बढ़ी सफलता मिलती है. जल्दी ही बेईमानी का रास्ता चुनने वाले इस प्रकार… Read More »Budh Rekha बुध रेखा

Gajkeshri yog

Gaj kesri yog

गजकेशरी योग : चंद्रमा से केंद्र में ( 1, 4, 7, 10 वें भाव में ) ब्रहस्पति स्थित हो तो गजकेशरी योग होता है. यदि शुक्र या बी उध नीच राशि में स्थित न होकर या अस्त न होकर चंद्रमा को सम्पूर्ण द्रष्टि से देखते हों तो प्रवाल गज केशरी योग होता है. फल : इस योग में जन्म लेने… Read More »Gaj kesri yog

Nature of Planets

Nature of planets

सूर्य के साथ शनि हो तो बल बढ़ता है. शनि के साथ मंगल हो तो मंगल अधिक बलशाली हो जाता है. मंगल के साथ गुरु, गुरु के साथ चंद्र, चंद्र के साथ शुक्र, शुक्र के साथ बुध तथा बुध के साथ चंद्र के होने पर उनका बल बढ़ता है. यही है नेचर ऑफ़ प्लैनेट्स. 1- सूर्य – सूर्य से पिता,… Read More »Nature of planets

Kiro hastrekha in hindi कीरो हस्तरेखा हिंदी में

दाहिना और बायां हाथ दाहिने और बाएं हाथ के अंतर को समझना भी हस्त परीक्षा में बहुत महत्वपूर्ण है । जो भी देखेगा वह विस्मय करेगा की एक ही व्यक्ति के दोनों हाथ एक-दूसरे से बिल्कुल विभिन्न होते हैं । यह भिन्नता अधिकतर रेखाओं के रूपों, उनकी स्थितियों तथा चिन्हों में होती है । हमने ओ नियम अपनाया है उसके… Read More »Kiro hastrekha in hindi कीरो हस्तरेखा हिंदी में

Rashifal2021 राशिफल‌

वार्षिक राशिफल 2021 राशिफल 2021 (Rashifal 2021) जानने से पहले ग्रहों की चाल जानना बहुत आवश्यक क्योंकि ग्रहों के गोचर से ही हमारा जीवन प्रभावित होता है। वर्ष की शुरुआत में दो मंद गति ग्रह, शनि और बृहस्पति की युति मकर राशि में रहेगी। यहां शनि देव तो अपनी राशि मकर में पूरे वर्ष विराजमान रहेंगे लेकिन बृहस्पति अपनी चाल बदलेंगे। 6… Read More »Rashifal2021 राशिफल‌