Home » Archives for Goodluckastro123

Goodluckastro123

Baruthani Ekadashi

Baruthani Ekadashi

बैशाख मॉस की कृष्ण पक्ष की एकादशी को यह मनाई जाती है. इस दिन व्रत करके जुआ खेलना, नींद, मदिरा पान, दंतधानव, परनिंदा, स्रुद्रिता, चोरी, हिंसा, रति, क्रोध तथा झूठ को त्यागने का महात्मय है. एसा करने से मानसिक शांति मिलती है. व्रती को फलाहार खाना चाहिए. परिवार के सदस्यों को रात्रि को भगवद भजन करके जागरण करना चाहिए. कथा… Read More »Baruthani Ekadashi

achla ekadashi vrat katha

Achla Ekadashi

ज्येष्ठ मॉस की कृष्ण पक्ष की एकादशी को अचला एकादशी कहते है. इसे अपर एकादशी भी कहते है. इस व्रत के करने से ब्रह्महत्या, परनिंदा, भुतयोनि जैसे निक्रष्ट कर्मों से छुटकारा मिल जाता है तथा कीर्ति, पुन्य एवं धन धान्य में अभी वृद्धि होती है. कथा :- प्राचीन कला में महीध्वज नामक धर्मात्मा राजा राज्य करता था. विधि की बिडम्बना… Read More »Achla Ekadashi

Nirjala Ekadashi

Nirjala Ekadashi

ज्येष्ठ मॉस की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहते हैं. इस व्रत में पानी का पीना वर्जित है, इसलिए इसे निर्जला एकादशी कहते हैं. वर्ष भर की चौबीस एकादशियों में से ज्येष्ठ शुक्ला निर्जला एकादशी सर्वोत्तम मानी गई है. इसका व्रत रखने से साड़ी एकादशियो के व्रतों का फल मिल जाता है. विधान :- यह व्रत नर एवं… Read More »Nirjala Ekadashi

kamda ekadashi

Kamda ekadashi Vrat

।। एकादशी व्रत ।। ।। चैत्र शुक्ता कामदा एकादशी ।। चैत्र मॉस की शुक्ल पक्ष की एकादशी को कामदा एकादशी कहते हैं: कथा : – प्राचीन समय में पुंडरिक नामक एक राजा नागलोक में राज्य करता था । उसका दरबार किन्नरों व् गन्धर्वों से भरा रहता था । एक दिन गंधर्व ललित दरवार में गाना कर रहा था कि अचानक… Read More »Kamda ekadashi Vrat

Navgrah

Kundali details online2

कुंडली की सम्पूर्ण जानकारी के लिए आपको इस पोस्ट को भी पढना होगा जिससे आपको Kundali details online की सम्पूर्ण जानकारी हो सके. सुप्त गृह : जिस घर में कोई गृह बैठा हुआ हो, उसके सामने वाले घर में कोई गृह न हो तो वह सुप्त गृह कहलाता है. उदाहरण : पहले घर में यदि ब्रहस्पति बैठा हो और उसके… Read More »Kundali details online2

Grah Nakshatra

Grah nakshatra

Woman’s kundali : पहला स्थान : 1- जिस स्त्री के छोटे स्थान में शनि, सूर्य, रहू, केतु, ब्रहस्पति अथवा मंगल इनमें से कोई गृह बैठा हो तो वह स्त्री सदाचारिणी और पति की अत्यन्त सेवा करने वाली होती है. छोटे स्थान में चन्द्रमा हो तो विधवा करता है और उक्त स्थान में बुध बैठा हो तो वह स्त्री वेश्या अथवा… Read More »Grah nakshatra

kalsharp yog v 12 prakar

kaal sarp dosh puja

ज्योतिषियों ने काल सर्प योग को अनिष्टकारी, भाग्य वृद्धि में अवरोधक, सांप-बिच्छु आदि से खतरा, अकाल म्रत्यु का, कारण कहा है. यह 12 प्रकार का होता है. इसलिए इसके बारह प्रकारों पर विचार करना चाहिए. 12 तरह के काल सर्प योग (दोष ): 1- अनन्त काल-सर्प- योग : राहु-केतु, लग्न से, सप्तम भाव में. 2- कुलिक काल-सर्प-योग : राहु-केतु, द्वतीय… Read More »kaal sarp dosh puja

woman's body marks

Stri ang ka vishesh fal

1- चिबुक ( ठोडी ) – (क) रोम-युक्त (बालों वाली )स्त्री, दुराचारिणी होती है. (ख) दो, अंगुल की सुन्दर बंसल चुबुक (ठोड़ी ) वाली स्त्री, सौभाग्यशाली होती है, 2- नाक (Nose)- (क) कपटी व् लम्बी नाक वाली स्त्री विधवा होती है. (ख) छोटी नाक वाली स्त्री धनी व् मजबूत स्वभाव की होती है. (ग) नाक का अगला भाग लम्बाई लिए… Read More »Stri ang ka vishesh fal

sharir ke angon par rom or hai

Sharir par baal hone ka matlab

महिलाओं में – यदि किसी महिला जातक के हाथों पर बाल हों, तो वे उसकी निर्दय प्रवृत्ति का संकेत देते हैं अथवा एसा महिला में पुरुषोचित गुण अत्यधिक मात्र में पाए जाते हैं. वह ह्रदय हीं व् क्रूर-कर्म करने वाली होती है. पुरुषों में – यदि किसी पुरुष जातक के हाथों पर, हलके बाल हों तो वह, वव्हार कुशल उर्जावान… Read More »Sharir par baal hone ka matlab