Vastu direction for house

Vastu direction for house

घर के वास्तुशास्त्र: अहम अनुदेश

आपके घर का वास्तुशास्त्र आपके जीवन को सुखद और समृद्धि पूर्ण बना सकता है। नीचे दिए गए हेडिंग्स के तहत हमने विभिन्न कमरों और स्थानों के लिए वास्तु टिप्स दी हैं:

  1. स्वप्नकक्ष (Bedroom) के वास्तु टिप्स:
    • स्वप्नकक्ष का मुख ईशान दिशा में होना चाहिए।
    • पैलेट्स या व्यक्तिगत सिंगल बेड का प्रयोग करें, डबल बेड न लगाएं।
    • स्वप्नकक्ष के दरवाजे के पास एक पेड़ या पौधे की जगह होनी चाहिए।
  2. रसोई (Kitchen) के वास्तु टिप्स:
    • रसोई का मुख दक्षिण-पूर्व या पूर्व में होना चाहिए।
    • गैस स्टोव के निचले हिस्से में स्टोरेज नहीं रखना चाहिए।
    • उपयुक्त वेंटिलेशन और प्राकृतिक प्रकाश योजना करें।
  3. बैथरूम (Bathroom) के वास्तु टिप्स:
    • बैथरूम का मुख उत्तर या पश्चिम में होना चाहिए।
    • मैरबल या ग्रेनाइट जगह स्थापित करने से बचें, क्योंकि ये बाधक हो सकते हैं।
    • नैचुरल वेंटिलेशन की अनुमति दें और सफाई का पूरा ध्यान रखें।
  4. बैलकनी (Balcony) के वास्तु टिप्स:
    • बैलकनी का मुख पूर्व या उत्तर में होना चाहिए।
    • बैलकनी को सुंदर पौधों और पौधों के लिए आदर्श स्थल बनाएं।
    • बैलकनी पर प्लांट्स की जगह बैठक या मेज़ न लगाएं।
  5. वास्तुकल (Living Room) के वास्तु टिप्स:
    • वास्तुकल का मुख उत्तर, पश्चिम या नॉर्थ-ईस्ट में होना चाहिए।
    • सोफा या कुर्सी के पीछे वॉल न लगाएं, खुले स्थान रखें।
    • सुंदर फ़र्नीचर और आर्टवर्क से इसे सजाएं।

वास्तुशास्त्र के माध्यम से आप अपने घर को सकारात्मक ऊर्जा से भर सकते हैं और जीवन को बेहतर बना सकते हैं। ध्यानपूर्वक और अनुष्ठान से इन वास्तु टिप्स का पालन करने से आपके घर में सुख, शांति, और समृद्धि का आनंद आ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *