हस्त सामुद्रिक

भविष्य जानने की जिज्ञासा मानव में आदि काल से रही है । हस्त रेखाओं के माध्यम से भविष्य सम्बन्धी ज्ञान हो सकता है । ऐसा धीरे – धीरे मानव को पता चल और इस तरह प्राचीन काल में ‘हस्त सामुद्रिक’ अथवा हस्त रेखा विज्ञानं का विकास हुआ । पामिस्ट्री अथवा हस्त रेखा विज्ञानं एक ऐसी Read more about हस्त सामुद्रिक[…]

पितृऋण एवं ऋणमुक्ति के हक़दार

जब जातक पर उसके पूर्वजों के पापों का गुप्त प्रभाव पड़ता है तब ‘ पितर ‘ या ‘ पितृऋण ‘ कहा जाता है। इस सन्दर्भ में गुनाह कोई करे और उसकी सजा दूसरा भुगते वाली बात होती है। सजा भोगने वाला गुनाह करने वाले का नजदीकी रिश्तेदार ही होता है। यह ऋण रहस्यमय है। इसका Read more about पितृऋण एवं ऋणमुक्ति के हक़दार[…]